भारत के दबाव के आगे झुका चीन, अरुणाचल से लापता 5 युवकों को वापस लौटाया

AP

नई दिल्लीः अरुणाचल प्रदेश से सीमा के पास लापता हुए 5 युवकों को चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) ने शनिवार को भारतीय सेना को लौटा दिया है। न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक, सेना ने सभी औपचारिकताओं को पूरा करने के बाद आज किबिटू में इन युवाओं को रिसीव किया है। इन सभी को कोविड-19 प्रोटोकॉल के तहत 14 दिनों के लिए क्वारंटीन किया जाएगा और इसके बाद इन्हें परिवार के सदस्यों को सौंप दिया जाएगा। इस बात की जानकारी तेजपुर डिफेंस पीआरओ ने दी।

ANItw

बता दें कि पहले तो चीन ने इस बात से साफ इंकार कर दिया था कि उनके पास उन युवाओं के बारे में कोई भी जानकारी नहीं है, लेकिन भारत के कूटनीतिक पे्रशर के आगे आखिर चीन को झुकना ही पड़ा। बाद में पीएलए ने कहा कि 4 सितंबर को अपर सुबनसिरी जिले में भारत-चीन सीमा से लापता हुए 5 युवक उन्हें सीमापार मिले थे। 

Also read: पूर्व नौसेना अधिकारी को पीटने पर घिरी शिवसेना, कंगना ने कहा ‘शेम’

इस पर केंद्रीय मंत्री किरण रिजिजू ने शुक्रवार को ट्वीट किया था, ‘‘चीन की पीएलए ने भारतीय सेना से इस बात की पुष्टि की है कि वह अरुणाचल प्रदेश के युवकों को हमें सौंप देंगे। उन्हें 12 सितंबर को किसी भी समय एक निर्दिष्ट स्थान पर सौंपा जा सकता है।’’

Also read in english: China returned 5 missing men from Arunachal

बता दें कि अरुणाचल के ऊपरी सुबनसिरी जिले के टैगिन समुदाय के 5 व्यक्तियों को नाचो के पास जंगल से चीनी सेना ने अपहरण कर लिया था। ये पाचों व्यक्ति वहां शिकार के लिए गए थे। शुक्रवार को अपहरण किए गए व्यक्तियों के रिश्तेदारों को यह सूचना मिली। कथित तौर पर जिन ग्रामीणों का अपहरण किया गया है, वे हैं- टोच सिंगकम, प्रसाद रिंगलिंग, डोंगटू इबिया, तनु बेकर और नार्गु डिरी। 

Also read: खुशखबरी! आज से पटरी पर दौड़ेंगी 80 विशेष रेलगाड़ियां, देखें पूरी सूची

अपहृत व्यक्तियों के साथ दूसरे और लोग भी शिकार पर गए थे। ये लोग चीनी सैनिकों की पकड़ में आने से बच गए और घटनास्थल से भागने में कामयाब रहे। इन्होंने गांव में पहुंचकर अन्य ग्रामीणों को पूरी घटना के बारे में बताया। लोगों ने इस बात की सूचना भारतीय सेना को दी। तब कहीं जाकर सेना ने पीएलए को हाॅटलाईन से मैसेज भेजा और इन 5 युवाओं की वापसी संभव हो सकी।

Also read: शिवसेना का गुण्डाराज, 24 घंटे के भीतर गिरफ्तार हुए शिवसैनिकों को मिली जमानत

Add comment


Security code
Refresh