गांधी सेतु के समानान्तर नए 4 लेन पुल का निर्माण, उत्तर-दक्षिण बिहार को मिलेगी ट्रैफिक से निजात

BH

नई दिल्लीः उत्तर बिहार से राजधानी पटना को जोड़ने वाला पुल महात्मा गांधी सेतु के समानांतर ही नए 4 लेन पुल का निर्माण कार्य तेजी से चल रहा है। एनएच-19 से जुड़े इस प्रोजेक्ट की लंबाई 14 किमी है, जिसमें लगभग 2927 करोड़ रुपये की लागत आएगी। इस पुल के बनने से गंगा नदी के दोनों ओर रहनेवाले लोगों को बहुत फायदा होगा। गंगा पर इस नए पुल बनने से जाम की समस्या खत्म होगी। उत्तर-दक्षिण बिहार के बीच यातायात सुलभ हो जायेगा।

Also read: बेरोजगार हो गई 'पीएम मोदी का टैटू' बनवाने वाली रांची की लड़की

प्रधानमंत्री ने ट्वीट कर इस बात कि जानकारी देते हुए लिखा है ‘‘बिहार की लाइफलाइन के रूप में मशहूर महात्मा गांधी सेतु आज नए रंगरूप में सेवाएं दे रहा है। लेकिन बढ़ती आबादी और भविष्य की जरूरतों को देखते हुए, अब महात्मा गांधी सेतु के समानांतर चार लेन का एक नया पुल बनाया जा रहा है। नए पुल के साथ 8-लेन का ‘पहुंच पथ’ भी होगा।’’

Also read: सरकार ने शेल कंपनियों को बंद करने के लिए शुरू किया विशेष अभियान

Capture1

प्रधानमंत्री ने आज 2926.42 करोड़ की लागत से गांधी सेतु के समानांतर 14.5 किमी चार लेन पुल, 1110.23 करोड़ की लागत से  विक्रमशिला सेतु के समानांतर 4.455 किमी लंबे चार लेन पुल और  1478.40 करोड़ की लागत से फुलौत में 28.93 किमी लंबे चार लेन पुल का पहुंच पथ के साथ निर्माण कार्य का शिलान्यास किया। जबकि 2288 करोड़ की लागत से 49 किमी लंबी नरेनपुर-पूर्णिया चार लेन सड़क, 1149.55 करोड़ की लागत से एनएच 31 के 47.23 किमी लंबी बख्तियारपुर-रजौली खंड का दो पैकेज में चार लेन चैड़ीकरण कार्य का शिलान्यास किया।

 

Also read: सितंबर माह में अप्रैल-मई जैसी गर्मी, जानें आखिर क्या है कारण...

Also read: आजमगढ़ में 4 सीटर एयरक्राफ्ट क्रैश, प्रशिक्षु पायलट की मौत

Add comment


Security code
Refresh