गुप्तेश्वर पांडेय के VRS पर रिया के वकील का तंज, शिवसेना भी भड़की

Gupteshwar Pandey

पटना​: बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय पिछले दिनों अपने बयानों को लेकर काफी चर्चा में रहे। बता दें कि बिहार सरकार ने उन्हें VRS दे दिया है। उनके वीआरएस पर रिया के वकील ओर शिवसेना ने तंज कसा है। सुशांत केस में उनके बयानों से चिढ़े शिवसेना और रिया के वकील ने निशाना ने उनके वीआरएस लेने पर निशाना साधा है। रिया के वकील सतीश मानसिंदे ने बयान जारी कर कहा कि सुशांत केस में सुशांत को तो नहीं, पर गुप्तेश्वर पांडेय को न्याय मिला है। 

सतीश मानसिंदे ने गुप्तेश्वर पांडेय के वीआरएस के बाद एक बयान जारी कर कहा, ‘‘बिहार सरकार ने जिस तरह 24 घंटे के भीतर गुप्तेश्वर पांडेय का वीआरएस स्वीकार कर लिया गया, ये वैसा ही था जैसे रिया के खिलाफ एफआईआर को सीबीआई को दिया गया था। ऐसे में लग रहा है सुशांत को नहीं, पांडेय को न्याय मिला है।’’ सत्यमेव जयते

Tw

शिवसेना भी भड़की- वहीं बिहार सरकार द्वारा आईपीएस अधिकारी गुप्तेश्वर पांडेय के वीआरएस दिए जाने पर शिवसेना भी भड़क गई है। शिवसेना प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी ने ट्वीट कर गुप्तेश्वर पांडेय पर निशाना साधा है। प्रियंका ने ट्वीट कर लिखा, ‘‘राजनीति करनी है तो जम के करो, चुनाव लड़ना है तो साहस और सत्य पर लड़ो। पर इस ‘गुप्त’ तरीके से, किसी की दुर्भाग्यपूर्ण मौत से अपने कैंपेन की शुरुआत करना वो बहुत दुखदाई भी है और दुर्भाग्यपूर्ण भी। भगवान आपको सफलता से पहले सदबुद्धि दे, यही मनोकामना है।’’

PCtw

बता दें कि 1987 बैच के आईपीएस अधिकारी गुप्तेश्वर पांडेय का कार्यकाल पांच महीने बाद समाप्त होने वाला है। 31 जनवरी 2019 को उन्हें बिहार का डीजीपी बनाया गया था। राज्य के पुलिस महानिदेशक के रूप में गुप्तेश्वर पांडेय का कार्यकाल 28 फरवरी 2021 को पूरा होने वाला है। दूसरी तरफ पांडेय के राजनीति में जाने की अटकलें लगाई जा रही हैं।

Add comment


Security code
Refresh