‘मिशन शक्ति’ के तहत UP पुलिस में 20% महिलाओं की होगी भर्ती

WomenPolice

लखनऊः उत्तर प्रदेश पुलिस में अब से 20 फीसदी महिलाओं को भर्ती किया जाएगा। राज्य के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ‘मिशन शक्ति’ की शुरुआत करते हुए यह बात कही। उन्होंने बहन-बेटियों की सुरक्षा और सम्मान पर जोर देते हुए कहा कि इन पर बुरी नजर डालने वालों को प्रदेश सरकार कानून के दायरे में लाकर कठोर सजा दिलाएगी। ऐसे लोगों की राज्य में कोई जगह नहीं है और इनकी दुर्गति निश्चित है।

मुख्यमंत्री ने शनिवार को बलरामपुर में मिशन शक्ति के उद्घाटन अवसर पर ये बातें कहीं। उन्होंने बलरामपुर को सवा पांच सौ करोड़ रुपए की सौगात दी। मुख्यमंत्री ने कहा कि नारी गरिमा व स्वाभिमान को जो लोग चोट पहुंचाने की कोशिश करेंगे, उन अपराधियों से सरकार पूरी कठोरता से निपटेगी।

मुख्यमंत्री ने शारदीय नवरात्र से वासंतिक नवरात्र तक चलने वाले मिशन शक्ति अभियान का शुभारंभ करते हुए कहा कि नारी शक्ति की प्रतीक है। हमारी सनातन परंपरा में नारी पूजनीय है, वंदनीय है। नवरात्र का अनुष्ठान इसी का द्योतक है। जरूरत है कि बदलते दौर में नई पीढ़ी को अपनी सनातन संस्कृति की परंपरा का वाहक बनाएं, उनमें, स्त्री के प्रति सम्मान, सुरक्षा और स्वावलंबन की भावना का प्रसार करें। मिशन शक्ति इसी दिशा में एक प्रयास है।

उन्होंने कहा कि महिलाओं व बेटियों सुरक्षा और सम्मान की शुरुआत घर से होने की जरूरत है। बेटा-बेटी में कोई भेद नहीं, कोख में बेटियों की हत्या और बाल-विवाह की सार्वजनिक रूप से निंदा होनी चहिए। बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ, मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना, मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना जैसे प्रयासों के माध्यम से केंद्र व राज्य सरकार पूरी मजबूती से बेटियों के उत्थान के लिए से संकल्पित है। अपने खिलाफ होने वाली हिंसा या अपराध की शिकायत जरूर करें। आपके पास 1090, 1070, 189, 112 जैसी तमाम विकल्प हर समय उपलब्ध हैं।  

Add comment


Security code
Refresh