देश

मनी लॉन्ड्रिंग केस में राउत की ईडी रिमांड 8 अगस्त तक बढ़ी

मुश्किल में शिवसेना के धाकड़ नेता, फिलहाल राहत नहीं

मुंबई: पात्रा चॉल जमीन घोटाला मनी लॉन्ड्रिंग मामले में शिवसेना के धाकड़ नेता और राज्यसभा सांसद संजय राउत को अभी राहत नहीं मिली है। कोर्ट के आदेश पर उन्हें 8 अगस्त तक ईडी की रिमांड में रहना है। ईडी के अधिकारियों ने राउत को बीते रविवार को उनके घर से गिरफ्तार किया था। इससे पहले राउत से करीब 6 घंटे की पूछताछ भी की गई थी।

पात्रा चॉल जमीन घोटाला मनी लॉन्ड्रिंग मामले में शिवसेना के सांसद संजय राउत बुरी तरह मुश्किल में फंस गए हैं। बीते रविवार को ईडी के अधिकारियों ने उनके घर की तलाशी ली और करीब 6 घंटे की पूछताछ के बाद उन्हें गिरफ्तार किया था। ईडी कोर्ट में पेश करने के बाद उन्हें पहले 4 अगस्त तक रिमांड में भेजा गया।

आज गुरुवार को ईडी के अधिकारियों ने संजय राउत को विशेष अदालत में पेश किया और फिर रिमांड की मांग की। कोर्ट के आदेश पर राउत को 8 अगस्त तक फिर ईडी की रिमांड में भेज दिया गया है।

पात्रा चॉल जमीन खरीद घोटाला
दरअसल, यह पूरा मामला पात्रा चॉल जमीन खरीद से जुड़ा है। यह 1,039 करोड़ रुपये के घोटाला का मामला है। इस मामले में ईडी पीएमएलए के तहत केस भी दर्ज कर चुकी है। इससे पहले अप्रैल में ईडी के अधिकारियों ने संजय राउत की पत्नी और करीबियों की करीब 11 करोड़ की संपत्ति जब्त की थी।